झारखण्ड सिमडेगा

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के प्रमुख डाॅ मोहन भागवत सिमडेगा के श्रीरामरेखा धाम पहुँचे।

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के प्रमुख डाॅ मोहन भागवत सिमडेगा के श्रीरामरेखा धाम पहुँचे। चप्‍पे-चप्‍पे पर कड़ी सुरक्षा के इंतजामों के बीच वे यहां धाम के प्रमुख महंत उमाकांत जी महाराज के अलावा हिंदू संगठनों के बुद्धिजीवियों से मिलेंगे। संघ प्रमुख अभी रामरेखाधाम के महंत उमाकांत जी महाराज के साथ अकेले में बात कर रहे हैं। संघ प्रमुखअपने तीन दिवसीय झारखंड दौरे पर मंगलवार रात रांची पहुंचे सरसंघचालक यहां रामरेखा धाम में कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

झारखंड और छत्तीसगढ़ की सीमा पर स्थित सिमडेगा का रामरेखा धाम एक बार फिर यहां संघ प्रमुख के आगमन को लेकर चर्चा में है। सरसंघचालक श्रीरामरेखाधाम में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। धाम के प्रमुख महंत उमाकांत जी महाराज के बुलावे पर वे यहां पहुंचे हैं। संघ प्रमुख के काफिले में दर्जनभर वाहन शामिल हैं। वे दिनभर विविध कार्यक्रमों शामिल होकर शाम 5:30 बजे रांची वापस लौटेंगे।

रामरेखा धाम सिमडेगा और आसपास के इलाके में हिंदू धर्म की आस्था का बड़ा केंद्र है। इसकी पहचान सनातन संस्कृति के ध्वजवाहक के रूप में है। हिंदू धर्म और भारतीय संस्कृति का व्यापक पैमाने पर प्रचार-प्रसार करने के साथ-साथ इस इलाके में बड़ी संख्या में होने वाले धर्मांतरण पर भी धाम ने रोक लगाई है। इससे पहले मंगलवार शाम बजे रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर वह पहुंचे, जहां संघ परिवार से लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया।

इधर सिमडेगा के रामरेखा धाम के महंत उमाकांत जी महाराज ने कहा कि वे कुछ माह पूर्व संघ प्रमुख को यहां आने का निमंत्रण दिया था, जिसे उन्होंने स्वीकार किया। बुधवार को उनके साथ धाम के विकास के संबंध में भी चर्चा होगी। गुफा मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद भागवत धाम विकास समिति एवं हिंदू धर्म रक्षा समिति के पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे।