RIMS
रांची

रिम्स अधीक्षक डॉ विवेक कश्यप की मां का निधन, मेडिकल छात्रों के लिए किया देहदान

रांची 13 फरवरी 2021 City On Click:

रिम्स अधीक्षक डॉ विवेक कश्यप ने अपनी मां भानु गुप्ता की मौत के बाद उनका शरीर मेडिकल छात्रों की पढ़ाई के लिए रिम्स को दान कर दिया। डॉ कश्यप ने कहा कि उनके पिताजी स्व डॉ बीएन गुप्ता की इच्छा देहदान करने की थी। वे डिस्ट्रिक मलेरिया अफसर थे। पहले से ही वे कहा करते थे कि मेरी मौत के बाद मेरा शरीर मेडिकल छात्रों की पढ़ाई के लिए दान कर देना। मृत शरीर को जला देने से उसका कोई उपयोग नहीं हो पाता है।

मई 2018 में उनकी मौत औरंगाबाद में हुई। उस समय भी पूरे परिवार की इच्छा उनका देहदान करने की थी। लेकिन वहां इसकी सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाने की वजह से हमलोग उनकी इच्छा पूरी नहीं कर सके। लेकिन गुरुवार को जब मां की मौत हो गई तो पूरा परिवार इस बात को लेकर सहमत था कि मां का शरीर छात्रों की पढ़ाई के लिए दान कर दिया जाए।

इसके बाद हम लोगों ने मां का शरीर रिम्स लाकर छात्रों की पढ़ाई के लिए समर्पित कर दिया। डॉ कश्यप ने कहा कि कर्मकांड से उच्चतर उद्देश्य की पूर्ति के लिए यदि कुछ किया जाना हो तो उसे जरूर करना चाहिए।

रिम्स में इलाज के दौरान हुई मौत :

डॉ कश्यप ने बताया कि गत एक फरवरी को मां को रिम्स ट्रॉमा सेंटर में क्रिटिकल केयर में भर्ती किया गया था। वे क्रॉनिक लीवर डिजीज की मरीज थीं। गुरुवार को शाम 5:15 बजे उनकी मृत्यु हो गयी। उनकी आयु 83 वर्ष थी। उनकी तबीयत ज्यादा खराब होने के कारण पूरा परिवार रांची में था। सभी ने मां का शरीर दान करने की इच्छा जाहिर की। इसके बाद ही यह पुनीत कार्य किया जा सका।

9 Replies to “रिम्स अधीक्षक डॉ विवेक कश्यप की मां का निधन, मेडिकल छात्रों के लिए किया देहदान

Comments are closed.