देश

भारत ने अस्त्र मिसाइल का किया लाइव परीक्षण, दुश्मन को हवा में मिलेगा करारा जवाब

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) और भारतीय वायुसेना ने बुधवार को हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल अस्त्र बियॉन्ड विजुअल रेंज का तीसरा लाइव सफल परीक्षण किया है. मिसाइल ने 90 किलोमीटर दूर ओडिशा के पास अपने लक्ष्य को बेहद सटीकता के साथ भेद दिया.

इससे पहले मंगलवार को डीआरडीओ ने मंगलवार को भी अस्त्र मिसाइल का सफल परीक्षण किया था. यह मिसाइल हवा में ही दुश्मन के हमले का जवाब देने में सक्षम है. रक्षा मंत्रालय के मुताबिक मंगलवार को ‘अस्त्र’ मिसाइल का सफल परीक्षण किया.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस कामयाबी पर वायुसेना और डीआरडीओ को बधाई दी थी. ‘अस्त्र’ को लड़ाकू विमान सुखोई-30 Mki से दागा गया था. इस विमान ने पश्चिम बंगाल के हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी.

इससे पहले डीआरडीओ ने आंध्र प्रदेश के कुर्नूल में फायरिंग रेंज से मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल सिस्टम का तीसरा सफल परीक्षण किया था. इस मिसाइल प्रणाली को भारतीय सेना की तीसरी पीढ़ी के एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल के लिए विकसित किया जा रहा है.

इसके अलावा भारतीय सेना ने राजस्थान के पोखरण में तीसरी पीढ़ी के एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल ‘नाग’ का सफल परीक्षण किया था. नाग मिसाइल को भी डीआरडीओ ने ही बनाया है. नाग मिसाइल को बनाने का काम इस साल के आखिरी में शुरू हो जाएगा. अब तक इसका ट्रायल चल रहा था. डीआरडीओ ने ताबड़तोड़ परीक्षण उस समय किए हैं, जब पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव चल रहा है.