Imran
अन्तराष्ट्रीय

भ्रष्ट हो चुकी है इमरान खान की पार्टी, वीडियो वायरल होने के बाद पूर्व सांसद ने कबूली रिश्वत लेने की बात

इस्लामाबाद 10 फरवरी 2021 City On Click:

पाकिस्तान सिर्फ आतंकवाद के लिए ही नहीं, भ्रष्टाचार के लिए भी जाना जाता है। मंगलवार को एक वायरल वीडियो ने इसकी पुष्टि भी कर दी है। इमरान खान के नेतृत्व वाले पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के सांसदों को 2018 के सीनेट चुनावों से पहले रिश्वत दिया गया था। पीटीआई के पूर्व सांसद उबैद उल्ला मेयर ने एक करोड़ रुपये की रिश्वत लेने की बात कबूल की है।

जियो न्यूज से बात करते हुए, मेयर ने कहा कि उन्होंने तत्कालीन खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री परवेज खट्टक के निर्देशों पर पैसा लिया था। उन्होंने यह भी कहा कि पीटीआई के नेतृत्व वाली प्रांतीय सरकार ने नेशनल असेंबली (एमपीए) के सभी सदस्यों को एक करोड़ रुपये का भुगतान किया था।

उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि नेशनल असेंबली स्पीकर के घर पर पैसे दिए गए थे। प्रांतीय सरकार ने सांसदों को पैसे दिए और फिर एक वीडियो भी बनाया। उन्होंने कहा, उस समय परवेज खट्टक ने 17 सांसदों की एक समिति बनाई थी और हमसे उन्हें वोट देने के लिए कहा। इसके लिए हमें पैसे दिए और हमें पार्टी का टिकट देने का वादा किया गया। उन्होंने कहा कि पैसे लेते समय वीडियो बनाए जाने के बारे में उन्हें पता नहीं था।

एक अन्य पार्टी के दो लोगों के संबंध में एक सवाल का जवाब देते हुए, जो वीडियो में पैसा लेते देखे जा सकते हैं, मेयर ने कहा कि “खट्टक ने उन्हें PTI में शामिल होने पर मंत्री बनाने का वादा किया था, जो बाद में पूरा हुआ।” उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें इस संदेह पर पैसे वापस करने के लिए कहा गया था कि उन्होंने पीटीआई के उम्मीदवार को वोट नहीं दिया।

उनका यह बयान पीटीआई सांसदों के 2018 में सीनेट चुनाव से पहले रिश्वत लेने के एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद आया है। आपको बता दें कि पाकिस्तान में इन दिनों प्रधानमंत्री इमरान खान की अगुवाई वाली सरकार और सीनेट के चुनावों से पहले खुले मतदान के मुद्दे पर विपक्ष के बीच बहस जारी है।

जियो न्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो में 2018 में सीनेट चुनाव से पहले पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के पूर्व सांसद मोहम्मद अली बच्चा से पैसे लेते हुए नेशनल असेंबली (एमएनए) के कुछ सदस्यों को दिखाया गया है। वीडियो में, खैबर पख्तूनख्वा पीटीआई प्रांतीय असेंबली (एमपीए) के सदस्यों के सामने एक टेबल के ऊपर पैसे के ढेर दिखाई देते हैं।

वीडियो सामने आने के बाद इमरान खान ने खैबर पख्तूनख्वा के कानून मंत्री सुल्तान मोहम्मद खान को हटाने का आदेश दिया है, जो 2018 के चुनाव से पहले पीटीआई में शामिल हो गए थे।

10 Replies to “भ्रष्ट हो चुकी है इमरान खान की पार्टी, वीडियो वायरल होने के बाद पूर्व सांसद ने कबूली रिश्वत लेने की बात

Comments are closed.