hujYatri
रांची

रांची के बजाए अब कोलकाता से जाएंगे हज यात्री, 18 से कम और 65 साल से अधिक आयु वालों को हज की इजाजत नहीं

रांची 10 नवंबर 2020 City On Click:

केंद्रीय हज कमेटी ने कोरोना महामारी के मद्देनजर दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए हज यात्रा के नियमों में तब्दीली की है। इस बार 18 साल से कम आयु के किशोर और 65 साल से अधिक आयु के बुजुर्ग को हज यात्रा में जाने की इजाजत नहीं दी है।

केंद्र ने इस संबंध में झारखंड राज्य हज कमेटी को पत्र भेजा है। पत्र में हज गाइडलाइन का हवाला दिया गया है। इसमें कहा गया है कि हज यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य है। हज यात्रियों को फेस मास्क और ग्लब्स भी लगाना होगा।

रांची के बजाए अब कोलकाता से जाएंगे हज यात्री : कोरोना को लेकर इस बार रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से हज यात्रियों की फ्लाइट सऊदी अरब के लिए रवाना नहीं होगी। केंद्रीय हज कमेटी ने रांची इम्बार्केशन प्वाइंट को हटा दिया है। अब झारखंड के हज यात्रियों को कोलकाता से फ्लाइट मिलेगी, जो सीधे जेद्दा जाएगी। कोरोना पैंडिमक पोजीशन और एयर इंडिया समेत विभिन्न एजेंसियों से प्राप्त फीडबैक के कारण इम्बार्केशन प्वाइंट की संख्या 21 से घटाकर 10 कर दी गई है। हज 2021 में 10 इम्बार्केशन प्वाइंट निर्धारित किए गए हैं। इसमें अहमदाबाद, बेंगलुरू, कोच्चि, दिल्ली, गुवाहाटी, हैदराबाद, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और श्रीनगर शामिल है।

कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही यात्रा की अनुमति : हज यात्रियों को विमान की निर्धारित तिथि से 72 घंटे पहले कोलकाता पहुंचना होगा। वहीं पर कोरोना की जांच करानी होगी। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उन्हें हज यात्रा पर जाने की अनुमति मिलेगी। नए नियम के मुताबिक हज पर जाने वालों को अब 43 दिनों की जगह 30 से 35 दिन तक ही सऊदी अरब में रहने की अनुमति होगी। केंद्रीय हज कमेटी ने इस संबंध में गाइडलाइन जारी किया है।

प्रत्येक हाजी को 3.75 लाख रुपए खर्च करने होंगे : कोरोना के प्रकोप के बीच हज का सफर भी महंगा हो गया है। केंद्रीय हज कमेटी की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार इस बार प्रत्येक हज यात्री को हज पर जाने में 3.75 लाख रुपए खर्च करने होंगे। पहली किस्त के रूप में हज यात्रियों से डेढ़ लाख रुपए लिए जाएंगे। शेष राशि एकमुश्त सफर से एक माह पहले ली जाएगी। हालांकि पहले प्रत्येक हज यात्री से तीन लाख रुपए ही लिए जाते थे।

10 दिसंबर तक ऑनलाइन जमा होंगे फॉर्म : केंद्रीय हज कमेटी ने ऑनलाइन हज आवेदन जमा करने की आखिरी तिथि निर्धारित कर दी है। 10 दिसंबर तक ऑनलाइन हज आवेदन जमा लिया जाएगा। इसके बाद आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे। हज आवेदन जमा करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। आवेदन हज कमेटी की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

15 Replies to “रांची के बजाए अब कोलकाता से जाएंगे हज यात्री, 18 से कम और 65 साल से अधिक आयु वालों को हज की इजाजत नहीं

Comments are closed.