झारखण्ड हादसा

बेटी के बॉयफ्रेंड से तंग आकर सिपाही ने ली पत्नी और बच्चों की जान


राजधानी राँची में ट्रिपल मर्डर से सनसनी,नशे में धुत सिपाही ने अपने ही पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया और आत्महत्या करने का नाटक किया।सिपाही ने बड़ी बेरहमी से चाकू और हथोड़े से मारकर पत्नी,बेटे और बेटी की हत्या की घटना को अंजाम दिया।
स्पेशल ब्रांच में कार्यरत ब्रजेश तिवारी ने। मौके पर चूहा मारने की दवा,नींद की दवा और हथौड़ी भी पुलिस को हुई बरामद।
शुक्रवार देर रात सदर थाना क्षेत्र में एसआईबी के जवान ब्रजेश तिवारी ने बड़गाई स्थित अपने घर मे एक ऐसी घटना को अंजाम दिया जिससे पूरी राँची सकते में है।
प्रेम प्रसंग बना हत्या का कारण?
हत्या की वजह फिलहाल स्पष्ट नही लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिसकर्मी बेटी के बॉयफ्रेंड से परेशान था और उसी गुस्से में आकर उसने इस पूरी वारदात को अंजाम दिया। पूरे परिवार की हत्या के बाद पुलिस का ये जवान खुद भी आत्महत्या करने की कोशिश की। घर मालिक ने पूरी वारदात के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पूरा परिवार काफी खुशहाल था लेकिन अचानक इस तरह की घटना हो जाएगी इसकी जानकारी उन्हें नही थी। घर मालिक ने बताया कि देर रात ब्रजेश की बहन अपने पूरे परिवार के साथ आकर ब्रजेश के घर का दरवाजा जोर जोर से खटखटाया लेकिन दरवाजा नही खुला जिसके बाद घर मालिक के साथ जबरदस्ती दरवाजा तोड़ घुसे तो अंदर का हाल देख वे भी अचंभित हो गए। पूरे घर मे खून बिखरा था, दोनो बच्चे बेड के नीचे मरे पड़े थे तो वही पत्नी बेड पर मृत पड़ी थी और खुद ब्रजेश बेड पर बैठे हुए थे ये नज़ारा देखते ही उन्होंने पुलिस को सूचना दी और जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को कमरे में सील किया और जवान को गिरफ्तार कर अस्पताल भेजा गया जहां उसका इलाज कराया जा रहा है। ब्रजेश पलामु जिले के रहेला के रहने वाले है। बेटी खुशबू तिवारी 15 वर्ष,बेटा बादल तिवारी 13 वर्ष,पत्नी का नाम रीना तिवारी है।बच्चे 7 डेज स्कूल में पढ़ाई करते थे।