JagarnathMahto
धनबाद रांची

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की बढ़ सकती है परेशानी, विशेष न्यायालय में पहुंचा इंटर कॉलेज डुमरी में हुए घोटाले का मामला

रांची 30 जनवरी 2021 City On Click:

फेफड़े का प्रत्यारोपण कराने के बाद चेन्नई के एमजीएम अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ कर रहे झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की परेशानी बढ़ सकती है। उनको गिरफ्तार कराने के लिए विरोध सक्रिय हो गए हैं। झारखंड कॉमर्स इंटर कॉलेज डुमरी में हुए घोटाले के मामले में विरोधी चाहते हैं कि महतो की गिरफ्तारी हो।

महतो के विरूद्ध कार्रवाई पर झारखंड हाई कोर्ट से रोक है। इस रोक को हटाने के लिए कानूनी लड़ाई शुरू हो गई है। उनके विरुद्ध अग्रतर कार्रवाई पर लगे स्थगन आदेश को हटाने की अर्जी धनबाद के एमपी/एमएलए के विशेष न्यायाधीश अखिलेश कुमार की अदालत में दाखिल की गई है। अधिवक्ता विनीत वत्स, अमित सिन्हा और बादल पासवान की ओर से दायर इस आवेदन पर सोमवार को सुनवाई हो सकती है। मंत्री जगरनाथ महतो अभी चेन्नई में इलाजरत हैं।

यह है आरोप

झारखंड कॉमर्स इंटर कॉलेज डुमरी के प्राचार्य डेगलाल राम ने नौ फरवरी 2017 को कॉलेज के अध्यक्ष जगरनाथ महतो, फूलचंद महतो, रामेश्वर प्रसाद यादव, र¨वद्र कुमार ¨सह, प्रताप कुमार यादव, मोती लाल महतो, राजेंद्र महतो के विरुद्ध कॉलेज के 27 लाख रुपये का षड्यंत्र के तहत गबन करने का आरोप लगाते हुए शिकायतवाद दर्ज कराया था। अधिवक्ता विनीत के मुताबिक आरोपितों ने गिरिडीह के ईसरी बैंक ऑफ इंडिया शाखा में फर्जी तरीके से कॉलेज का एकाउंट खोला था। कॉलेज का बैंक एकाउंट गिरिडीह के इलाहाबाद बैंक में चल रहा था। आरोप है कि कॉलेज के रुपये को इलाहाबाद बैंक से बैंक ऑफ इंडिया में ट्रांसफर कर लिया गया।

जारी हुआ था वारंट

27 जून 2019 को प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी गिरिडीह रंजय कुमार की अदालत ने प्रथम ²ष्टया आरोप सही पाते हुए सभी आरोपितों के विरुद्ध सम्मन जारी कर हाजिर होने का आदेश दिया था। सम्मन के बाद भी आरोपित हाजिर नहीं हुए। लिहाजा अदालत ने उनके विरुद्ध गिरफ्तारी का जमानतीय वारंट जारी कर दिया था।

हाईकोर्ट पहुंचे आरोपित

अधिवक्ता विनीत वत्स ने बताया कि निचली अदालत द्वारा जारी जमानतीय वारंट के विरुद्ध आरोपितों ने उच्च न्यायालय झारखंड में याचिका दायर किया था। जिस पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति आनंदा सेन की खंडपीठ ने 20 जनवरी 2020 को आदेश पारित करते हुए आरोपितों के विरुद्ध अग्रेतर कारवाई पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी थी। चुकी स्थगन आदेश लगाए हुए एक वर्ष से ज्यादा हो गए इसलिए सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के आलोक में आरोपितों के विरुद्ध लगे स्थगन आदेश को हटाने की अर्जी अदालत में दायर की गई।

7 Replies to “शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की बढ़ सकती है परेशानी, विशेष न्यायालय में पहुंचा इंटर कॉलेज डुमरी में हुए घोटाले का मामला

  1. гидра ссылка относительно обширный, в основном, это одна из наиболее известных площадок в государствах СНГ. Поэтому, если вам необходимы определенные не разрешенные категории товаров, то вы гарантированно отыщите их здесь.И огромное количество прочих товаров, которые имеют отношение к этим обобщенным категориям. Сверх того, Гидра и ресурс площадки постоянно прогрессируют, магазинов он-лайн делается все больше, ассортиментный выбор товаров увеличивается, потому, если здесь чего-то не существовало прежде, может появится теперь.

  2. гидра сайт, естественно, гарантирует защищенность в интернет-сети, и все же, этой защиты недостаточно и работать с проектом с обыкновенного интернет-браузера нереально. При открытии сайта через обыкновенный для вас интернет-браузер провайдер отследит все разделы, на какие вы заходили, и настолько сомнительная активность заинтересует структуры правопорядка. Потому надо подумать о дополнительной защищенности.

  3. hydraruzxpnew4af.onion относительно обширный, в целом, это одна из особенно востребованных платформ в государствах СНГ. Потому, если для вас требуются какие-либо запрещенные группы изделий, тогда вы гарантированно подберете их здесь.И огромное число прочих товаров, которые имеют касательство к таким общим группам. Сверх того, Гидра и портал платформы непрерывно развиваются, торговых центров делается все больше и больше, ассортиментный набор товаров растет, поэтому, если здесь чего-либо не существовало прежде, может обнаружиться теперь.

Comments are closed.