देश

दीपोत्सव LIVE: सरयू तट पर बोले योगी, अयोध्या के नाम से डरती थीं पिछली सरकारें

सरयू तट पर नदी का किनारा 5.5 लाख दीयों से जगमग करेगा। ये अपने आप में एक रिकॉर्ड होगा. राम नगरी को राम के रंग में पिरोने के लिए हजारों स्कूली बच्चों की भी खास भूमिका रही है. बच्चों ने भगवान राम के जीवन पर आधारित चित्रकारी से अयोध्या को अलौकिक बना दिया है।


राम की नगरी अयोध्या में आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम में शामिल होने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वहां पहुंचे और जनता को दीपोत्सव की शुभकामनाएं दीं. मुख्यमंत्री योगी के संबोधन के बाद दीयों को जलान का काम शुरू हो गया है. यहां 5.5 लाख दीयों को जलाया जाएगा, जो वर्ल्ड रिकॉर्ड होगा|


सीएम योगी ने कहा कि राम की परंपरा पर सबको अनुभूति होती है. सीएम योगी ने कहा, ‘मोदी सरकार में बिना किसी भेदभाव के सबका विकास हो रहा है. पिछली सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं. पीएम मोदी ने राम राज्य की धारणा को साकार किया है. मोदी ने भारत की परंपरा को विश्व पटल पर रखा. भारत दुनिया में विश्वगुरू के रूप में स्थापित हो रहा है.’


सीएम योगी ने कहा, ‘भारत किसी को छेड़ता नहीं, अगर कोई छेड़े तो उसे छोड़ता नहीं.’
उन्होंने कहा, ‘केंद्र और प्रदेश की योजनाओं से अवधपुरी के रूप में बदलने के लिए 226 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण हो रहा है. भारत की सांस्कृतिक विरासत को मोदी जी ने बेहतरीन तरीके से रखा है. आज दुनिया भारत के सांस्कृतिक गौरव का एहसास कर रही है. अयोध्या का दीपोत्सव हो या वाराणसी की देव दिवाली या फिर प्रयाग का कुम्भ हो, हम इसे भुला नहीं सकते.’


अयोध्या में योगी आदित्यनाथ ने कहा, सरकार की आवास, शौचालय, उज्ज्वला, बिजली और आयुष्मान आदि योजनाओं के बारे में भी योगी ने विस्तार से चर्चा की.


इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी ने इशारों-इशारों में पाकिस्तान को भी चेताया और कहा कि हमने अपने दुश्मनों को भी बखूबी जबाब दिया है. सीएम योगी ने पिछली सरकारों पर अयोध्या की उपेक्षा का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि पहले की सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं और यहां आना नहीं चाहती थीं.