देश राष्ट्रीय

बिहारः महागठबंधन में दरार, आमने-सामने RJD और कांग्रेस, मांगा तेजस्वी का इस्तीफा

लोकसभा चुनाव में देशभर में कांग्रेस की हुई करारी हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार कांग्रेस ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव से भी इस्तीफा देने की मांग की है. इसके लिए कांग्रेस ने दबाव बनाना शुरू कर दिया है.

कांग्रेस ने कहा है कि अगर बिहार में महागठबंधन की जीत होती तो इसका श्रेय गठबंधन के सभी दलों को मिलता. आम चुनाव में गठबंधन की बुरी तरह हार हुई है इसलिए हार की नैतिक जिम्मेदारी तेजस्वी यादव को लेनी चाहिए और अपना इस्तीफा देना चाहिए.

आजतक से बातचीत करते हुए कांग्रेस विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव में पार्टी की हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपना इस्तीफा दे दिया है. इसका अनुकरण करते हुए बिहार में तेजस्वी यादव को अपना इस्तीफा देना चाहिए. इससे जनता के बीच संदेश जाएगा कि महागठबंधन ने जनता के निर्णय का सम्मान किया है.

कांग्रेस के एक अन्य विधायक राजेश कुमार ने कहा कि बिहार में महागठबंधन की हार की जिम्मेदारी केवल राहुल गांधी को नहीं लेनी चाहिए. राजेश कुमार ने कहा कि बिहार की जनता ने महागठबंधन को जनादेश नहीं दिया और इस चीज का सम्मान करने के लिए सबसे उचित माध्यम है कि महागठबंधन के नेता अपने पद से इस्तीफा दें. राजेश कुमार ने कहा कि राहुल गांधी का अनुकरण करते हुए तेजस्वी यादव को भी अपना इस्तीफा देना चाहिए.

हालांकि, आरजेडी ने तेजस्वी यादव के इस्तीफे को लेकर कहा है कि उन्हें ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने आजतक से बातचीत करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव में आरजेडी के सबसे खराब प्रदर्शन के बावजूद भी पार्टी तेजस्वी यादव के नेतृत्व को स्वीकार करती है. कांग्रेस के द्वारा तेजस्वी के इस्तीफे की मांग को भी रामचंद्र पुर्वे ने नए सिरे से खारिज कर दिया.