Temple
देवघर

बाबा वैद्यनाथ मंदिर में नहीं मिल रहा प्रवेश तो बाहर से ही दर्शन कर जल अर्पित कर रहे हैं श्रद्धालु

देवघर 29 सितंबर 2020 City On Click:

कोरोना की वजह से झारखंड से बाहर के बाबा वैद्यनाथ के भक्तों को भले ही राज्य सरकार ने देवघर के मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी है, फिर भी बाबा के प्रति इनकी आस्था में कोई कमी नहीं आ रही है। वे लगातार देवघर पहुंच रहे हैं और मुख्य द्वार से वैद्यनाथ मंदिर के पंचशूल का दर्शन कर बाहर ही बाबा को जल अर्पित कर रहे हैं।

हर दिन बड़ी संख्या में बिहार के श्रद्धालुओं का जुटान बाबानगरी में हो रहा है। वे बिहार के भागलपुर के सुल्तानगंज के उत्तरवाहिनी गंगा घाट से पवित्र गंगाजल लेकर बाबानगरी आ रहे हैं। आश्विन मास शुक्ल पक्ष द्वादशी तिथि और मलमास की दूसरी सोमवारी पर भी बाबा मंदिर के बाहर कुछ ऐसा ही दृश्य देखने को मिला।

बिहार के मिथिलांचल क्षेत्र से कुछ श्रद्धालु बाबा मंदिर के बाहर प्रवेश द्वार तक पहुंचे। काफी कोशिश के बावजूद जब श्रद्धालुओं को बाबा वैद्यनाथ मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई, तो सभी ने वैद्यनाथ मंदिर के पश्चिमी द्वार के बाहर नाथबाड़ी के पास बाबा का पंचशूल देखकर सड़क किनारे बालू के ढेर पर पवित्र गंगाजल बाबा के नाम से अर्पित कर दिया।

यह कोई नई बात नहीं है। हर दिन इस प्रकार के दृश्य दिख जाते हैं। कोरोना के कारण बाबा मंदिर लंबे समय तक बंद रहा। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य सरकार की ओर से मंदिर हालिया दिनों से खोला तो गया है, लेकिन हर दिन झारखंड के 200 श्रद्धालुओं को ही ई-पास के माध्यम से पूजा करने की अनुमति दी गई है।