Bihar
देश बिहार राजनीति

बिहार चुनाव में नीतीश और तेजस्वी के बाद उपेंद्र कुशवाहा भी बने CM फेस

पटना 29 सितंबर 2020 City On Click:

बिहार में महागठबंधन से अलग राह लेने वाले रालोपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा की एनडीए में भी बात नहीं बनी। तीन दिन तक दिल्ली में डेरा डालकर उन्होंने इसका भरपूर प्रयास किया। फिर उन्होंने अलग राह तलाशनी शुरू कर दी थी। आज मंगलवार को उन्होंने एक और नए गठबंधन का ऐलान किया है। मायावती की बसपा और जनवादी सोशलिस्‍ट पार्टी के साथ गठबंधन की घोषणा की है। मायावती ने ट्वीट कर बताया कि अगर यह गठबंधन जीतता है तो उपेंद्र कुशवाहा ही मुख्यमंत्री बनेंगे। मायावती ने कहा कि उपेंद्र ही इस गठबंधन का नेतृत्व करेंगे। 2015 के विधानसभा चुनाव में भी रालोसपा एनडीए के साथ मिलकर ही लड़ी। इस चुनाव में रालोसपा को 23 सीटों पर चुनाव लड़ी थी, जिसमें से वो सिर्फ दो सीट ही जीत सकी।

गठबंधन की घोषणा के बाद उपेंद्र कुशवाहा ने आरोप लगाया कि महागठबंधन जिस तरीके से चल रहा है, उससे मौजूदा सरकार के कुशासन से बिहार को मुक्त कराना संभव नहीं था। कहा कि इस सरकार ने बड़े-बड़े वायदे किए लेकिन दवाई, कमाई, पढ़ाई, सिंचाई हर मोर्चे पर फेल रही। आरोप लगाया कि बिहार के दोनों गठबंधन पर भाजपा का कंट्रोल है।

राजद पर हमला बोलते हुए कहा कि हम बिहार की जनता से शिक्षा पर बात कैसे करते, जब महागठबंधन का मुखिया ही मैट्रिक फेल हो। तत्कालीन मुख्यमंत्री अपने दोनों बेटों को मैट्रिक तक नहीं करा पाए। हमने कोशिश की कि राजद अपना ढर्रा बदले। नेतृत्व बदले, लेकिन सुनवाई नहीं हुई तो हमने अपनी राह बदल ली। उपेंद्र ने आरोप लगाया कि दोनों गठबंधन की राजनीति पर भाजपा का कंट्रोल है। उन्होंने अबकी बार, शिक्षा वाली सरकार का नारा दिया। कहा कि नए साथियों का स्वागत है। सभी 243 सीटों पर लड़ेंगे।

17 Replies to “बिहार चुनाव में नीतीश और तेजस्वी के बाद उपेंद्र कुशवाहा भी बने CM फेस

Comments are closed.